November 18, 2019
राजस्थान के पर्यटन स्थल-Rajasthan Tourist places in Hindi

राजस्थान के पर्यटन स्थल-Rajasthan Tourist places in Hindi

राजस्थान के पर्यटन स्थल-Rajasthan Tourist places in Hindi  दोस्तों राजस्थान भारत के पश्चिम हिसे में रेगिस्थान में है। ये राज्य पर्यटन के लिए सबसे अच्छा राज्य माना जाता है। रेगिस्थान की सुनहरी रेत, रंग बिरंगी पोशाके , मीठी बोली , सुरीले गीतों, फागुन नृत्य{घिंदर }, प्राचीन लोक परंपराओं और समृद्ध हस्तशिल्पों से राजस्थान की पुरे विश्व में अपनी पहचान हैं। राजस्थान में ऊंट की सवारी की तो बात कुछ और है। राजस्थान के हर शहर में आप को दर्शनीय और पर्यटक स्थल देखने को मिलते है। यहां विशेष रूप से दुर्ग तो हर जिले मिल जायेगा है। राजस्थान अपने अंदर एक विशाल राजस्थान के पर्यटन स्थल और इतिहास को समेटे हुये हैं।

देश के पश्चिम हिसे के रेगिस्थान में है। राजस्थान छेत्र्फल में भारत का सबसे बड़ा राज्य है। ये राज्य भारत के 10.4% हिसे को अपने में समेटे हुए है। जो 342,250 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में फेला है। जयपुर पिंक सिटी यहाँ की राजधानी है। राजस्थान के पर्यटन स्थल में एक मात्र हिल स्टेशन है । जो अरावली की पर्वत मालाओ में स्थित माउंट आबू है। राजस्थान की पश्चिम सीमा पाकिस्तान से लगती है । और ये हिसा काफी शुष्क और रेतीला है।

राजस्थान के पर्यटन स्थल-Rajasthan Tourist places in Hindi

राजस्थान ने कई अद्भुत घटनाओं को देखा है। इस राज्य का दौरा खूबसूरत रेगिस्तानी शहरों जैसलमेर और बाड़मेर, उदयपुर और चित्तौड़गढ़,जयपुर के प्राकृतिक सुंदरता और महान इतिहास काअनुभव कराएगा। और ये राजस्थान के पर्यटन स्थल भी है। स्थान पर राजपूत वंश ने राज किया। जिनकी साहस और वीरता की कहानिया आप को इतिहास के हे पन्ने में मिल जाएगी है।इस धरती पर आपको इतिहास, मिथक, वीरता और प्रेम का अद्भुत मिश्रण देखने को मिलेगा। प्राचीन कल में राजस्थान कई शासकों में बंटा हुआ था। जिसका जोशीला इतिहास और वीरता की कहानियां भारतीय इतिहास का पर्मुख हिस्सा रही है।

राजस्थान में कई महाराजाओं के अद्भुत राज्य और उनके महल व किले हैं। और उनकी वीरता की कहानी इन किलो और महलों में साफ झलकती है । इस लिए राजस्थान को वीरो की धरती भी कहा जाता है। राजस्थान के पर्यटन स्थल इन किलो व महलों का खास योगदान है।

राजस्थान के पर्यटन स्थल देखने आये देश विदेश पर्यकटों के लिए एक उचित पर्यटन स्थल है। भारत की सैर करने वाला विदेशी सैलानी राजस्थान देखने ज़रूर आता है। राजस्थान का खुमार दुनिया भर के पर्यटकों दिल में बस्ता है। यहां अद्भुत हवेलियां , दुर्ग और महल के साथ आप को उत्सुकता भर देने वाली प्राचीन स्मारक भी बहुत देखने को मिलती हैं।

राजस्थान के पर्यटन स्थल-Rajasthan Tourist places in Hindi
राजस्थान के पर्यटन स्थल-Rajasthan Tourist places in Hindi

राजस्थान के पर्यटन स्थल -Rajasthan Tourist places in Hindi

दोस्तों राजस्थान के पर्यटन स्थल की जानकारी एक साथ बता पाना संभव नहीं है। राजस्था बहुत बड़ा राज्य और इस में पर्यटक स्थल भी बहुत है। लेकिन राजस्थान के कुछ पर्यटक स्थल की जानकारी आप के साथ साँझा कर रहा हु।

आमेर का क़िला

आमेर का क़िला राजस्थान के जयपुर में स्थित एक ऐतिहासिक धरोहर है। जो जयपुर से 12 किलोमीटर दूर अरावली की पहाडियों स्थित है । आमेर किला राजपूत वास्तुकला का अद़भुत उदाहरण है। प्राचीन काल में आमेर कछवाह राजाओं की राजधानी रहा है। और अधिक जानकारी के आगे पढ़े  ……

जूनागढ़ क़िला

जूनागढ़ क़िला राजस्थान राज्य के बीकानेर शहर में स्थित है। जूनागढ़ किले की नीव सन 1478 में महाराजा राव बीका के द्वारा शुरू राखी गई थी, लेकिन इस भव्य और खूबसूरत संरचना का निर्माण 17 फरवरी 1589 को राजा राय सिंह द्वारा शुरू किया गया था। अगर आप इस खूबसूरत किले की सैर करना चाहते हैं तो बता दें कि जूनागढ़ का किला दिखने में बेहद आकर्षक और विशाल है, यहां आने वाले पर्यटकों कों अपनी तरफ खींचता है। और अधिक जानकारी के आगे पढ़े …..

माउन्ट आबू

माउंट आबू राजस्थान के सिरोही जिले में स्थित एक प्रसिद्द हिल स्टेशन है। माउन्ट आबू राजस्थान का एक मात्र हिल स्टेशन है। यह अपनी प्राकृतिक सुंदरता, आरामदायक जलवायु, हरी भरी पहाड़ियों, निर्मल झीलों, वास्तुशिल्पीय दृष्टि से सुंदर मंदिरों और अनेक धार्मिक स्थानों के लिए प्रसिद्द है। यह स्थान जैन धर्मार्थीओ के प्रसिद्द तीर्थ स्थानों में से एक है। यह हिल स्टेशन अरावली पर्वत की सबसे ऊँची चोटी पर स्थित है । जो 1220 मीटर की ऊँचाई पर स्थित है। और अधिक जानकारी के आगे पढ़े …..

जयपुर का जयगढ़ किला

जयगढ़ क़िला राजस्थान के जयपुर में अरावली की पर्वतमालाओं में चील का टीला पर स्थित एक बहुत ही भव्य धरोहर है। Jaigarh Fort को महाराजा जय सिंह ने 18 वीं सदी में बनवाया था। बताया गया है की इस किले पर रखी यह तोप दुनिया में सबसे बड़ी तोप है। जयगढ़ किला को जयपुर शहर की समृद्ध संस्कृति को दर्शाने के लिए बनवाया गया था। यह किला उंचाई पर स्थित होने के कारण इससे पूरे जयपुर शहर का मनोहरम दृश्य देखा जा सकता है। यह किला भारत के राजस्थान के जयपुर में आमेर के पास बना हुआ है। इस किले को आमेर किले की सुरक्षा के लिये बनवाया था इस किले को आमेर फोर्ट के आकार में ही बनाया गया है। और अधिक जानकारी के आगे.पढ़े ….

हवा महल

शाही हवा महल खूबसूरत गुलाबी शहर जयपुर में स्थित है। हवामहल की स्थापना महाराजा सवाई प्रताप सिंह ने सन् 1799 में की थी। विश्व भर में मधुमक्‍खी के छत्ते जैसी संरचना के लिए प्रसिद्ध है। इस वजह से सबसे ज्यादा दखा जाने वाला पर्यटन स्थल है। हवामहल लाल और गुलाबी पठारों से बनाया गया है। राजस्थान के पर्यटन स्थल हवामहल का अपना खास स्थान है। और अधिक जानकारी के आगे पढ़े …..

सिटी पैलेस

सिटी पैलेस जयपुर शहर के बिच और हवामहल के पास स्थित है। राजस्थान के पर्यटन स्थल में से एक है। सिटी प्लेस एक महल परिसर है। सिटी पैलेस जयपुर की एक लोकप्रिय धरोहर है जो शहर के बीचोबीच स्थित है। इस शानदार महल का निर्माण महाराजा सवाई जय सिंह माधो ने करवाया था। इस खूबसूरत भवन में कई इमारतें है विशाल आंगन और एक विशाल आकर्षक बाग़ हैं, जो इसके राजसी इतिहास की पहचान करता हैं। इस परिसर में ‘चंद्र महल’ और ‘मुबारक महल’ जैसे खूबसूरत भवन भी हैं। इस भवन के छोटे से भाग को संग्रहालय और आर्ट गैलेरी में बनाया गया है। सिटी प्लेस की खूबसूरती और सुंदरता को देखने के लिए सैलानी विश्व भर से हज़ारों की संख्या में सिटी पैलेस देखहने आते हैं। और अधिक जानकारी के आगे पढ़े …..

जंतर मंतर

जंतर मंतर भारत का एक इतिहासिक व् राष्ट्रीय ये धरोहर है। राजस्थान की राजधानी जयपुर की एक विश्व प्रशिद्ध स्मारक है। महाराजा सवाई जय सिंह ने जंतर मंतर का निर्माण शुरू किया था जो सन 1738 में पूरा हुआ था। जंतर मंतर में सबसे दुनिया की बड़ी दीवारघडी बनी हुई है। जो पत्थरो की है और साथ ही यह यूनेस्को वर्ल्ड हेरिटेज साईट में भी शामिल है। यह स्मारक जयपुर शहर के सिटी पैलेस और हवा महल के पास बना हुआ है। यह प्राचीन इतिहासिक स्मारक प्राचीन आर्किटेक्चरल कलाओ को दर्शाता है स्मारक में पीतल के यंत्र देखने लायक भी है। और अधिक जानकारी के आगे पढ़े …..

रणथम्भौर नेशनल पार्क

रणथम्भौर नेशनल पार्क राजस्थान राज्य के सवाई माधोपुर जिले के छेत्र में पड़ता है। जो शहर से 11 किमी की दुरी पर में स्थित है। भारत के कुछ खास टाइगर रिज़र्व में से एक रणथम्भौर नेशनल पार्क में भी है। रणथंभौर नेशनल पार्क एक राष्ट्रीय उद्यान है। रणथम्भौर नेशनल पार्क अरावली की पहाडि़यों में स्थित है। इस पार्क में किला भी स्थित है। जिसका नाम रणथम्भौर किला है। इस नेशनल पार्क में मछली नाम की एक बंगाली बाघिन है। जिसे देखने के लिए देश विदेश के पर्यटक आते है। रावली पर्वत मालाओं से घिरे रणथम्भौर के इस जंगल में जयपुर के महाराजा शिकार किया करते थे। लेकिन बाद में कुछ समय बाद सन 1955 में इसे ने अभयारण्य बना दिया। और अधिक जानकारी के आगे पढ़े …..

नाहरगढ़ का किला

राजस्थान की राजधानी जयपुर में उत्तर—पश्चिम में अरावली की पहाड़ी पर स्थित हैं। यह किला जयपुर के राजा सवाई जय सिंह द्वारा बनाया गया था। पीले रंग का नारहगढ़ किला गुलाबी नगर की खूबसूरती में चार चांद लगाता है। नाहरगढ़ का किला शहर के लगभग हर कोने से नजर आता है। इस किले को देखना निश्चित ही आनंदमयी और मनमोहक होता है। आमेर किले और जयगढ़ किले के साथ नाहरगढ़ किला भी जयपुर शहर को कड़ी सुरक्षा प्रदान करता है। असल में किले का नाम पहले सुदर्शनगढ़ था। लेकिन बाद में इसे नाहरगढ़ किले के नाम से जाना जाने लगा। इस किले का नामकरण जयपुर के राजकुमार नाहर के नाम पर किया था। और अधिक जानकारी के आगे पढ़े …..

चित्तौड़गढ़ किले का

चित्तौड़गढ़ त्याग और बलिदान की उन सैंकड़ों कहानियों का गवाह रहा हे। अपने अतीत पर चित्तौड़गढ़ को अभिमान है। इस वीर भूमि चित्तौडगढ़ में जन्म लेन वाले विरो ने अपनी जन्मभूमि के सामन में अपने लहू देकर मेरा सम्मान किया ! चित्तौड़गढ़ आज मैं अपने इतिहास वीरतापूर्ण लड़ाइयों, महिलाओं के अद्भूत साहस की कई इतिहास रहे, चित्तौड़ की इस पावन धरा ने तो अन्याय और अत्याचार के खिलाफ ही लड़ना आज भी स्कूलों के पाठ्य पुस्तक में सिखाया जाता है ! चित्तौड़गढ़ के वीर प्रतापी राजा महाराणा प्रताप के खिलाफ सभी पडोसी राजाओ और सगे संबंधी मुगल अकबर के साथ हो जाने के बाद भी महाराणा प्रताप का सेनापति बनकर पठान योद्धा हाकम खान सूर ने ही युद्ध में बलिदान दिया। और अधिक जानकारी के आगे पढ़े …..

उदयपुर का किला

हिन्दुस्थान के राज्य राजस्थान छेत्र के वादियों में बसा एक सुंदर शहर उदयपुर जिस को झीलों की नगरी भी कहा जाता है । उदयपुर शहर बहुत ही फेमस और बहुत ही खूबसूरत शहर है । यह मेवाड़ राज्य की ऎतिहसिक राजधानी है। उदयपुर को महाराणा उदय सिंह ने सन 1553 में इस खूबसूरत को बसाया था । उदयपुर एक बहुत ही खूबसूरत और लोकप्रिय पर्यटक स्थान है । अपने इतिहास , सुंदर स्थानों ,अपनी संस्कृति और अपनी वीरता के लिए विश्व प्रसिद्ध है । उदयपुर की जनता बहुत ही मिलनसार है यहां की मेहमान नवाजी से सब का मन मोह लेती है। देश विदेश से घूमने आने वाले सैलानी यहां की सुंदरता , संस्कृति , यहां के लोगों के अपनेपन से काफी प्रभावित होते हैं । और अधिक जानकारी के आगे पढ़े …..

जैसलमेर का किला

भारत एक प्राचीन धोरोहर और ऐतिहासिक देश है। इस देश में एक से बॾ कर एक नायाब धरोहर है। जो आज भी अपने इतिहास और वीरता की कहानी बयां करती है। राजस्थान में जयपुर से 560 किलोमीटर दूर और पाकिस्तान सीमा से सटा जैसलमेर का किला इसका एक बड़ा उदाहरण है । जो 750 साल पुराना इतिहास दर्शाता है। ये दुर्ग 250फीट त्रिकोण आकार की पहाड़ी पर स्थित है।इस पहाड़ी की लंबाई 150फीट और चौड़ाई 750फीट है। इस किले का निर्माण 1156 शताब्दी में रावल जेसल ने शुरू करवाया था । और अधिक जानकारी के आगे पढ़े …..

EXAMPLE OF A LIST

खूबसूरत जगह रानीखेत
हिमाचल प्रदेश पर्यटन स्थल
ताजमहल का इतिहास और जानकारी

राजस्थान का मौसम

राजस्थान का  मौसम गर्मी, मानसून और सर्दी  3 तरह का रहता है जिसमें गर्मी, मानसून और सर्दियों शामिल हैं। पूरे राज्य म केवल मॉनसून को छोड़  बाकी समय शुष्क रहता है। गर्मियों में बहुत अधिक गर्मी पड़ती है।

राजस्थान के प्रमुख त्यौहार

राजस्थान में मनाये जाने वाले त्योहारों में होली, दीपावली, मकर संक्रांति और जन्माष्टमी, गोगा नवी, रक्षाबंधन , गणगौर का विशेष महत्त्व है । इसके अलावा राजस्थान में वर्ष में कई  बार मेला का भी आयोजन होता है  राजस्थान के पुष्कर {पुष्कर मेल की जानकारी के लिए यहाँ पढ़े }में पशु मेला लगता है जो विश्व भर में पर्सिद है

राजस्थान के पर्यटक स्थल-Rajasthan Tourist places in Hindi-tourword
राजस्थान के पर्यटक स्थल-Rajasthan Tourist places in Hindi-tourword

One thought on “राजस्थान के पर्यटन स्थल-Rajasthan Tourist places in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *