August 5, 2020
Sikkim travel guide (Sikkim tourism) in Hindi सिक्किम में घुमाने की जानकारी

Sikkim travel guide (Sikkim tourism) in Hindi सिक्किम में घुमाने की जानकारी

Sikkim travel guide Sikkim tourism in Hindi नॉर्थ ईस्ट में बसा भारत का दूसरा सबसे छोटा राज्य सिक्किम देश के सबसे खूबसूरत राज्यों में से एक है। सिक्किम भारत का एक बहुत ही खूबसूरत और एक छोटा राज्य है, सिक्किम के पर्यटक स्थल (sikkim tourist place) देश विदश के पर्यटका आकर्षण का केंद्र है सिक्किम (sikkim tourism) की प्राक्रतिक और रहस्यवादी सुंदरता देखने लायक है, जहा हरियाली से भरपूर पहाड़ो की ऊँची चोटिय, नदियों, पहाड़ों, झीलों और झरनों से बहते पानी की मधुर आवाज आप को मदहोश कर देती है, सिक्किम भारत ( best place to visit Sikkim )का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है, सिक्किम आश्चर्यजनक ट्रेकिंग मार्ग सिक्किम को छुट्टी बनाने के लिए परफेक्ट प्लेस बनाते हैं।

सिक्किम कहा स्थित है Where is Sikkim located in hindi

हिमालय में पूर्वी में स्थित सिक्किम एक खुबसूरत पिकनिक पोइट है, सिक्किम की सीमा 3 देशो से लगती है , उत्तर में तिब्बत (चीन), पूर्व में तिब्बत और भूटान और पश्चिम में नेपाल से घिरा है। सिक्किम दुनिया की तीसरी सबसे ऊंची चोटी कंचनजंगा नीचे फैला हुआ है, जिसकी ऊंचाई 8,534 मीटर है , सिक्किम सर्दियों के मौसम में यहां पर बर्फ से ढके पहाड़ों देख पाएंगे। गर्मियों के मौसम में यात्रा करने वाले लोग यहाँ की हरियाली और प्राकृतिक दृश्यों का आनंद भी ले सकते हैं। सिक्किम में हॉट स्प्रिंग्स भी हैं जो अपने औषधीय मूल्यों के लिए जानी जाती है।

सिक्किम का इतिहास- Sikkim History In Hindi

सिक्किम का इतिहास सन 1642 में वजूद में आया, जब तीन बौद्ध भिक्षुओं ने फुन्त्सोंग नाम्ग्याल को सिक्किम का पहला राजा घोषित किया गया, इस तरीके से सिक्किम में राजतन्त्र का की शुरूआत हुई. जिसके बाद नाम्ग्याल राजवंश ने 333 सालों तक सिक्किम पर राज किया. भारत ने 1947 में स्वाधीनता हासिल की. इसके बाद पूरे देश में सरदार वल्लभभाई पटेल के नेतृत्व में अलग-अलग रियासतों का भारत में विलय किया गया. इसके बाद सिक्किम में जनमत संग्रह कराया गया. जनमत संग्रह में 97.5 फीसदी लोगों ने भारत के साथ जाने की वकालत की. जिसके बाद सिक्किम को भारत का 22वां राज्य बनाने का संविधान संशोधन विधेयक 23 अप्रैल, 1975 को लोकसभा में पेश किया गया. आजादी के 28 साल बाद 26 अप्रैल 1975 में सिक्किम को भारत का 22 वां राज्य बना दिया गया।

जोधपुर घूमने लायक जगह, यहाँ पढ़ें
हिमाचल प्रदेश पर्यटन स्थल, यहाँ पढ़ें

सिक्किम में घूमने लायक जगहें Sikkim travel guide (Sikkim tourism) in Hindi

माउंट कंचनजंघा के नीचे पहाड़ियों में स्थित है सिक्किम राज्य। अद्भुत सुंदरता से परिपूर्ण। ऊंचे-ऊंचे पहाड़ सिक्किम के आसमान पर राज करते हैं। बर्फ से ढंकी चोटियों, हरे पन्ने जैसी ढालों, तेज जलधाराओं, ऊंचे रोडोडेंड्रन्स, चमकते ऑर्किड्स और पहाड़ी हवा के साथ चोटियों पर बने मठों के बहुरंगी झंडे पर्यटकों को आकर्षित करते हैं। पहाड़ियों की ढाल पर दोनों ओर आकर्षक भवन दिखाई देते हैं। शहर में पारंपरिक रीति-रिवाजों और आधुनिक जीवनशैली का अनूठा संगम देखने को मिलता है। यह एक खूबसूरत शहर है जहां जरूरत की हर आधुनिक सुविधा उपलब्ध है।

गंगटोक सिक्किम की देखने लायक जगहें  Gangtok travel guide (Sikkim tourism) in Hindi

सिक्किम में घूमने लायक जगहें Sikkim travel guide (Sikkim tourism) in Hindi
सिक्किम में घूमने लायक जगहें Sikkim travel guide (Sikkim tourism) in Hindi

गंगटोक शहर सिक्किम राज्य में सबसे बड़ा और खूबसूरत शहर है। ये शहर पूर्वी हिमालय रेंज में शिवालिक पहाड़ियों में स्थित हैं। ये समुंदर तल से 1437 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। सिक्किम आने वाले पर्यटकों के लिए गंगटोक एक प्रमुख आकर्षण का केंद है। एनचेय मठ के कारण गंगटोक शहर प्रमुख बौद्ध तीर्थ स्थल के रूप में लोकप्रिय है। आज के समय गंगटोक महत्वपूर्ण पर्यटक स्थल है। ये देश विदेश से आये सेलानियो की पहली पसंद है। गंगटोक सिक्किम राज्य की राजधानी के साथ ये सिक्किम राज्य का सब से बड़ा शहर है । ये हिमालय के किनारे बसा होने के कारण यहाँ मोसम हमेशा सुहाना और मनोहरम रहता है । गंगटोक के टॉप पर्यटन स्थल होने के कारण हर गली मोहले में आप को अच्छी होटल आसानी से मिल जएगी।

मथुरा के तीर्थ स्थल की जानकरी यहाँ पढ़ें

युक्सोम सिक्किम का प्रमुख पर्यटक स्थल Yuxom Sikkim’s tourist place in hindi

भारत के पूर्वी राज्य सिक्किम में स्थित युकसोम एक हिल स्टेशन है, युकसोम हिमालय की खुबसूरत बर्फीली पहाड़ियों और घाटियों के लिए जाना जाता है। यह सिक्किम की पहली राजधानी थी। यह प्रसिद्ध माउंट कंचनजंघा की चढ़ाई के लिए बेस कैम्प भी है। युकसोम 1780 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है, युकसोम अपने धार्मिक महत्व के लिए प्रसिद्ध है। युकसोम प्रतीकात्मक रूप से ‘सिक्किम की तीसरी आंख’ का प्रतिनिधित्व करता है। युकसोम का शाब्दिक अर्थ है ‘तीन लामाओं की बैठक का स्थान’ माना जाता है! कि ये तीन लामा तिब्बत से आए थे जिन्होंने अपनी पकड़ मजबूत करने के लिए यहां बैठक की थी। इस खास लेख में जानिए पर्यटन के लिहाज से यह खूबसूरत पहाड़ी गंतव्य आपके लिए कितना खास है, जानिए यहां के सबसे प्रसिद्ध स्थानों के बारे मे। Read More

सोम्गो लेक सिक्किम दर्शनीय स्थल  Somgo Lake Sikkim Attractions in hindi

यह झील एक किलोमीटर लंबी, अंडाकार है। स्थानीय लोग इसे बेहद पवित्र मानते हैं। मई और अगस्त के बीच झील का इलाका बेहद खूबसूरत हो जाता है। दुर्लभ किस्मों के फूल यहां देखे जा सकते हैं। इनमें बसंती गुलाब, आइरिस और नीले-पीले पोस्त शामिल हैं। झील में जलीय और पक्षियों की कई प्रजातियां मिलती हैं। लाल पांडा के लिए भी यह एक मुफीद जगह है। सर्दियों में झील का पानी जम जाता है।

नाथू ला पास सिक्किम पर्यटन स्थल nathu la pass Sikkim tourist place in hindi

Tourist Attractions at Nathula Pass नाथूला दर्रे पर पर्यटकों के आकर्षण
Tourist Attractions at Nathula Pass नाथूला दर्रे पर पर्यटकों के आकर्षण

नाथूला पास हिमालय का एक पहाड़ी दर्रा है जो भारत के सिक्किम राज्य और दक्षिण तिब्बत में चुम्बी घाटी से जुड़ा हुआ है। नाथूला पास {nathu la pass}14 हजार 200 फीट की ऊंचाई पर है। नाथूला पास भारत की सिक्किम की राजधानी गान्तोक शहर से 56 किलोमीटर पर स्थित है, केवल भारतीय नागरिक ही यहाँ जा सकते हैं और इसके लिए भी उन्हें गान्तोक से पास बनवाना होता है। भारत और चीन के बीच 1962 में हुए युद्ध के बाद इसे बंद कर दिया गया था। फिर साल 2006 में व्यापार समझौतों के बाद नाथू ला पास को वापस खोला गया। नाथूला पास में हिन्दू और बौद्ध तीर्थयात्रियों के लिए महत्वपूर्ण तीर्थ स्थान है, Read More..

पेलिंग सिक्‍किम का खूबसूरत शहर Beautiful City of Pelling in Sikkim in hindi

Sikkim travel guide (Sikkim tourism) in Hindi पेलिंग सिक्‍किम का बहुत ही खूबसूरत शहर है, यह समुद्र सतह से 2150 मीटर की ऊँचाई पर स्थित है। पेलिंग शहर से कंचनजंघा का बेहद मनमोहक द्रश्य दिखता है। पहाड़ों की चोटियों से दिखने वाले बर्फ़ से ढंके हुए पहाड़ के मनोरम दृश्य इसे और भी हसीन बना देते हैं। इसी जगह से दुनिया की तीसरी सबसे ऊंची चोटी माउंट कंचनजंघा को सबसे करीब से देखा जा सकता है। जो 6,800 फीट की ऊंचाई पर स्थित है, यह स्थान तो खूबसूरत है ही, पेलिंग के अन्य आकर्षण हैं सांगा चोइलिंग मोनास्ट्री, पेमायंगत्से मोनास्ट्री और खेचियोपालरी लेक। शुरू में पेलिंग जंगलों से भरा इलाका था, जिसमें कई जानवरों का बसेरा था। इसका विकास एक समृद्ध गांव के रूप में होने का सबसे बड़ा कारण बने दो बौद्ध मठों पेमयांग्स्ते और संगाचोलिंग जिनके बीच में यह स्थित है। 

सिक्किम रिसर्च इंस्टीट्यूट ऑफ तिब्बतोलॉजी Sikkim Research Institute of Tibetology in hindi

यह राष्ट्रीय स्तर पर तिब्बती अध्ययन और अनुसंधान केंद्र के तौर पर जाना जाता है। यह संस्थान दुर्लभ पांडुलिपियों, बौद्ध धर्म से जुड़ी पुस्तकों और संकेतों के व्यापक संग्रह के तौर पर प्रसिद्ध है। यह भवन तिब्बती वास्तुकला का एक बेहतरीन उदाहरण है, जो ओक और सनौबर के छोटे जंगल से घिरा हुआ है। इस संस्थान में कला से जुड़ी धार्मिक कलाकृतियां और रेशम से एम्ब्रायडरी वाली अद्भुत पेंटिंग्स भी हैं।

सिक्किम के त्यौहार Festivals Of Sikkim In Hindi

सिक्किम के त्यौहार Festivals Of Sikkim In Hindi
सिक्किम के त्यौहार Festivals Of Sikkim In Hindi

सिक्किम भारत के अन्य त्याहार के साथ यहां के स्थानीय त्योहारों को बहुत ही उल्लास और धूम-धाम के साथ मनाते हैं। सिक्किम के कुछ खास त्योहारों जेसे यहाँ के लोग बौद्ध नववर्ष और फसल उत्सवों के अलावा बुद्ध के जन्म, बुद्ध से संबंधित वर्षगांठ मनाते हैं। गंगटोक और उसके आसपास के क्षेत्रों में कई त्योहार मनाए जाते हैं।बुमचू का बौद्ध त्योहार जनवरी के दौरान ताशिदिंग गोम्पा में आयोजित किया जाता है।

बेस्ट हिंदी शायरी कलेक्शन click here

सिक्किम की वेशभूषा- Sikkim Ka Pehnawa

सिक्किम की वेशभूषा प्रमुख समुदायों की सामाजिक और सांस्कृतिक जीवन शैली को दर्शाती है जो लेप्चा, भूटिया और नेपाली हैं। लेप्चा, भूटिया और नेपाल के तीनों समुदाय अलग-अलग वेशभूषा पहनते हैं जो राज्य में पाई जाने वाली विविधता को और बढ़ाते हैं। सिक्किम की वेशभूषा, लोगों के पहनावे और गहनों की चमक और सुंदरता और आविष्कारशील चालाकी के प्रति प्रेम को दर्शाती है।

सिक्किम की पुरुष वेशभूषा Sikkim male costumes in hindi

लेप्चा पुरुषों की पारंपरिक वेशभूषा थोकोरो-दम है जिसमें एक सफेद पाजामा येन्हत्से, एक लेपचा शर्ट और शंबो, टोपी शामिल है। पुरुष पोशाक की बनावट खुरदरी और लंबे समय तक चलने वाली होती है, जो खेत और जंगल में हार्डी शौचालय के लिए उपयुक्त है। भूटिया नर की पारंपरिक वेशभूषा में खो भी शामिल है, जिसे बाखू के नाम से भी जाना जाता है। सिक्किम के एक अन्य प्रमुख समूह नेपाली ने अपनी वेशभूषा में अपनी संस्कृति की जातीयता को बनाए रखा है। नेपाली पुरुष चूड़ीदार पायजामा, एक शर्ट, जो कि दउरा के नाम से जाना जाता है, के ऊपर शूरवल में खुद को पहनते हैं। यह आसकोट, कलाई कोट और उनकी बेल्ट से जुड़ा है, जिसे पटुकी कहा जाता है।

सिक्किम की महिला पोशाक Sikkim Women’s Dress in hindi

सिक्किम की महिला पोशाक Sikkim Women's Dress in hindi
सिक्किम की महिला पोशाक Sikkim Women’s Dress in hindi

लेप्चा महिलाओं की वंशानुगत पोशाक डमवम या डुमिडम है। लेप्चा महिलाओं द्वारा प्रदर्शित शानदार गहने, प्रवेश, बालियां, नामचोक, लयक एक हार, ग्यार, एक कंगन, और इतने पर। भूटिया समुदाय, जो तिब्बत के समीपवर्ती देश से है, वर्षों से सिक्किम की संस्कृति और सामाजिक मानदंडों में निहित है। भूटिया महिला की सामान्य वेशभूषा में खो या बाखू, हंजु, एक रेशमी फुल-स्लीव्स वाला ब्लाउज, कुशेन, एक जैकेट, टोपी का एक अलग पैटर्न, शंबो और शबचू शामिल हैं। पैंगडन, धारीदार एप्रन, वैवाहिक स्थिति का हस्ताक्षरकर्ता विवाहित भूटिया महिलाओं का प्रतीक है। भूटिया महिलाओं की उपस्थिति बढ़ाने वाले आभूषण येनचो, बाली, खाओ, हार, फीरु, मोती आभूषण, दीव, सोने की चूड़ी, और जोको, अंगूठी हैं। भूटिया लोग सोने के शुद्ध रूप से प्रभावित होते हैं, अर्थात्, 24 कैरेट, और उनके अधिकांश आभूषण शुद्ध सोने से निर्मित होते हैं।

सिक्किम का खाना – Local Food Of Sikkim In Hindi

इसके अलावा अगर आप खाने पीने के शैकीन है तो सिक्किम की सैर जरूर कीजिए। क्योंकि सिक्किम खाने पीने के काफी मशहूर है। सबसे दिलचस्प बात तो यह है कि सिक्किम के क्वीजीन में 3 कल्चर्स का मिश्रण मिलता है- नेपाल, तिब्बत और सिक्किम और यही वजह है कि यहां के फ्लेवर्स किसी के भी टेस्ट बड्स को पसंद आते हैं। सिक्किम जाएं तो इन चीजों को टेस्ट करना बिलकुल न भूलें।

सिक्किम जाने का सबसे अच्छा समय- Best Time To Visit Sikkim In Hindi

सिक्किम घूमने का सही समय सिक्किम जाने का सबसे अच्छा समय मई से लेकर सितंबर के महीने का होता है। इन महीनों के दौरान यहां का अधिकतम तापमान 28-30 डिग्री सेंटीग्रेड के बीच होता है। इन महीनों में उत्तरी सिक्किम का मौसम ठंडा रहता है। जुलाई और सितंबर के महीनों में यहां हल्की बारिश होती है। सर्दियों में यहां का तापमान उप-शून्य तक गिरने वाला होता है जो आपको यात्रा को कठिन बना सकता है इसलिए हम आपको सिक्किम की यात्रा करने की सलाह नहीं देते। अगर आप सिक्किम यात्रा की योजना बना रहे हैं तो अप्रैल और मई के महीने यहां की यात्रा के लिए सबसे अच्छे हैं।

सिक्किम कैसे पहुंचे – How To Reach Sikkim In Hindi

सिक्किम कैसे पहुंचे – How To Reach Sikkim In Hindi
सिक्किम कैसे पहुंचे – How To Reach Sikkim In Hindi

सिक्किम जाने का रास्ता, बड़ी संख्या में पर्यटक और छुट्टी मनाने आने वाले लोग हर साल सिक्किम आते हैं। सिक्किम कैसे पहुंचे, अक्सर इस बारे में लोग सवाल पूछते हैं तो इसका जवाब आज हम आपको बता रहे हैं

सिक्किम हवाई मार्ग से कसे जाये How to get to Sikkim by air in hindi

बंगाल का बागडोगरा एयरपोर्ट गंगटोक का सबसे नजदीकी एयरपोर्ट है जो यहां से 125 किलोमीटर दूर है। देशभर की ज्यादातर एयरलाइन्स बागडोगरा एयरपोर्ट पर अपनी सेवाएं देती हैं। दिल्ली, बंगलुरू, चेन्नई, कोलकाता और गुवाहाटी जैसे प्रमुख शहरों से बागडोगरा के लिए नियमित फ्लाइट्स मौजूद हैं। एयरपोर्ट पहुंचने के बाद आप टैक्सी या कैब लेकर सड़क मार्ग के जरिए महज 4 घंटे में बागडोगरा से गंगटोक पहुंच सकते हैं।

सिक्किम रेल मार्ग से कसे जाये How to get through the Sikkim rail route in hindi

पश्चिम बंगाल का न्यू जलपाइगुड़ी सबसे नजदीकी रेलवे स्टेशन है जो गंगटोक से 120 किलोमीटर दूर है। देशभर के प्रमुख शहरों से यह रेलवे स्टेशन भी जुड़ा हुआ है। दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, चेन्नई, बंगलुरु से कई ट्रेनें जलपाइगुड़ी तक आती हैं। रेलवे स्टेशन पहुंचने के बाद टैक्सी या कैब के जरिए सड़क मार्ग से सिक्किम पहुंचा जा सकता है।

सिक्किम सड़क मार्ग से कसे जाये How to get through Sikkim by road in hindi

पड़ोसी राज्यों से सिक्किम की रोड कनेक्टिविटी बहुत अच्छी है। दार्जिलिंग 96 किलोमीटर, सिलिगुड़ी 118 किलोमीटर और कलिंगपोंग 75 किलोमीटर से भी गंगटोक सड़क मार्ग के जरिए जुड़ा हुआ है। इन शहरों से गंगटोक जाने के लिए बसों की सुविधा भी मौजूद है। हालांकि बस के सफर में वक्त अधिक लगता है इसलिए अगर समय बचाना चाहते हैं तो टैक्सी या कैब हायर कर लें और 3-4 घंटे में गंगटोक पहुंच जाएं। यहां सड़कों की हालत अच्छी है और रोड ट्रिप के दौरान आपको जो प्राकृतिक खूबसूरती नजर आएगी उसकी यादें हमेशा के लिए आपके साथ रह जाएंगी।

हेल्लो दोस्तों उमीद है Sikkim travel guide (Sikkim tourism) in Hindi सिक्किम में घुमाने की जानकारी जरुर पसंद आई है